बारिश की बूँदें भले ही छोटी हों

"बारिश की बूँदें, भले ही छोटी हों, लेकिन उनका लगातार बरसना बड़ी बड़ी नदियों का बहाव बन जाता है । ऎसे ही हमारे छोटे छोटे प्रयास निश्चित ही जिन्दगी में बड़ा परिवर्तन लाने में सक्षम रहते हैं । प्रयास छोटा ही सही लगातार होना चाहिए। "

By | 2017-09-09T10:00:12+00:00 September 9th, 2017|Rain-Barish Shayari|0 Comments