सिर्फ इशारों में होती है मोहब्बत अगर, इन अल्फाजों को

सिर्फ इशारों में होती है मोहब्बत अगर, इन अल्फाजों को खूबसूरती कौन देता बस पत्थर बन के रह जाता ताज महल अगर इश्क इसे अपनी पहचान न देता।

By | 2017-11-24T11:20:46+00:00 November 24th, 2017|Propose Day Wishes|0 Comments