उसकी बातों को बार बार याद करके रोये उसके लिये दर पे फरियाद करके रोये

"उसकी बातों को बार बार याद करके रोये, उसके लिये दर पे फरियाद करके रोये, उसकी खुशी के लिये उसको छोड दिया फिर, उसे किसी ओर के साथ आबाद करके रोये. ?"

By | 2017-09-13T04:21:27+00:00 September 13th, 2017|Miss You Shayari|0 Comments

“आरज़ू होनी चाहिए किसी को याद करने की……!!

"आरज़ू होनी चाहिए किसी को याद करने की……!! लम्हें तो अपने आप ही मिल जाते हैं, कौन पूछता है पिंजरे में बंद पंछियों को, याद वही आते है जो उड़ जाते है…!!"

By | 2017-09-13T04:10:30+00:00 September 13th, 2017|Miss You Shayari|0 Comments