थोड़ा सा हरा रंग है थोड़ा सा लाल रंग है होली खुशियों से भर गई मेरी

थोड़ा सा हरा रंग है थोड़ा सा लाल रंग है होली खुशियों से भर गई मेरी क्यूंकि तू मेरे संग है आज मुझसे मत पूछ की इतना खुश क्यूँ हूँ मैं तू है जो मेरे साथ तो ज़िन्दगी में नई उमंग है.

By | 2018-01-17T11:29:50+00:00 January 17th, 2018|Holi Shayari|0 Comments