ज़रूरत ही है अल्फाज़ों की प्यार तो चीज़ है

"“ज़रूरत ही है अल्फाज़ों की प्यार तो चीज़ है बस एहसास की पास होते तो मंजर ही क्या होता दूर से ही खबर है हमें आपकी हर सांस की।”

By | 2017-11-15T06:25:03+00:00 November 15th, 2017|Rose Day Shayari|0 Comments