कृष्णा तेरी गलियों का जो आनंद है वो दुनिया के किसी कोने में नहीं

" कृष्णा तेरी गलियों का जो आनंद है, वो दुनिया के किसी कोने में नहीं । जो मजा तेरी वृंदावन की रज में है, मैंने पाया किसी बिछौने में नहीं ।। जय श्री कृष्णा"

By | 2017-08-07T09:23:37+00:00 August 7th, 2017|Janmashtami Wishes|0 Comments

पलकें झुकें और नमन हो जाए मस्तक झुके, और वंदन हो जाए

" पलकें झुकें , और नमन हो जाए…….!! मस्तक झुके, और वंदन हो जाए……!! ऐसी नज़र, कंहाँ से लाऊँ, मेरे कन्हैया कि आपको याद करूँ और आपके दर्शन हो जाए..!! कृष्णा जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाये"

By | 2017-08-07T09:19:43+00:00 August 7th, 2017|Janmashtami Wishes|0 Comments