पानी की बूंदे फूलों को भिगा रही हैं

"“पानी की बूंदे फूलों को भिगा रही हैं, ठंडी लहरे एक ताज़गी जगा रही हैं, हो जायें आप भी इनमें शामिल, एक प्यारी सी सुबह चॉकलेट के साथ आपको जगा रही है |” हैप्पी चॉकलेट डे!"

By | 2017-11-14T08:55:50+00:00 November 14th, 2017|Chocolate Day Shayari|0 Comments