Koi Pukar Raha Tha Khuli Fazaon Se

"Koi Pukar Raha Tha Khuli Fazaon Se Jise Nigah Mili Usko Intezar Mila Vo Koi Raah Ka Pathar Ho Ya Hanseen Manzar Jahan Se Raasta Thehra Vahin Mazaar Mila Har Ek Saans Na Jaane Thi Justjoo Kiski Har Ek Ghar Musafir Ko Beghar Mila Ye Shehar Hai Ki Numaish Lagi Hui Hai Koi Jo Aadami [...]

By | 2017-10-03T08:49:28+00:00 October 3rd, 2017|Nida Fazli Shayari|0 Comments

होश वालों को ख़बर क्या बेख़ुदी क्या चीज़ है

"होश वालों को ख़बर क्या बेख़ुदी क्या चीज़ है इश्क़ कीजे फिर समझिए ज़िन्दगी क्या चीज़ है उन से नज़रें क्या मिली रोशन फिजाएँ हो गईं आज जाना प्यार की जादूगरी क्या चीज़ है ख़ुलती ज़ुल्फ़ों ने सिखाई मौसमों को शायरी झुकती आँखों ने बताया मयकशी क्या चीज़ है हम लबों से कह न पाये [...]

By | 2017-10-03T06:39:14+00:00 October 3rd, 2017|Nida Fazli Shayari|0 Comments